TERE SINE ME LAGTA HAI DIL NAHI LYRICS

Song Details: Tere Sine Me Lagta Hai Dil Nahi Lyrics by Sachin Pandey.

Tere Sine Me Lagta Hai Dil Nahi Lyrics

आजा करीब मेरे नसीब
क्यों बनाये तू दूरिया।
युही कोई बेवफा नहीं होता
होगी कुछ मझबूरिया।

रोने रुलाने से, तोहमत लगाने से
कुछ होगा हासिल नहीं।

तेरे सीने में लगता है दिल नहीं

तू मेरी मोहबत के क़ाबिल नहीं।
तेरे सीने में लगता है दिल नहीं
तू मेरी मोहबत के क़ाबिल नहीं।

जान जवानी तड़प रही है
हमपे थोड़ा तरस खाओ।
आग हु में जल जाओगे
पास मेरे न आओ।

जान जवानी तड़प रही है
हमपे थोड़ा तरस खाओ।
आग हु में जल जाओगे
पास मेरे न आओ।

खुद को मिटा देना
तुझ पे लुटा देना
इतना भी मुश्किल नहीं।

तेरे सीने में लगता है दिल नहीं
तू मेरी मोहबत के क़ाबिल नहीं।

तेरे सीने में लगता है दिल नहीं
तू मेरी मोहबत के क़ाबिल नहीं।

हमने ही ये दर्द दिया है
हम ही महरम लगाएंगे।
छोड़ो धोका देने वाले
वादा कैसे निभाएंगे।

हमने ही ये दर्द दिया है
हम ही महरम लगाएंगे।
छोड़ो धोका देने वाले
वादा कैसे निभाएंगे।

तुहि डगर है, मेरा सफर कोई दूजा मंज़िल नहीं।

तेरे सीने में लगता है दिल नहीं
तू मेरी मोहबत के क़ाबिल नहीं।

तेरे सीने में लगता है दिल नहीं
तू मेरी मोहबत के क़ाबिल नहीं।

Music Video

This is the end of Tere Sine Me Lagta Hai Dil Nahi Lyrics.

Leave a Comment